पृथ्वी से मंगल ग्रह की दूरी कितनी है - Distance Between Earth And Mars In Hindi - Hindi Trendy

Breaking

सोमवार, 1 मार्च 2021

पृथ्वी से मंगल ग्रह की दूरी कितनी है - Distance Between Earth And Mars In Hindi

Distance Between Earth And Mars - मानव ने हमेशा से ही पृथ्वी के बाहर ब्रह्मांड मे झांक के जानकारी जुटाने के प्रयास किए हैं वैसे तो आज तक कई सारे प्रयास किए गए है लेकिन इनमे से कुछ प्रयास सफल रहे और बही कुछ आसफल भी रहें है समय-समय पर पृथ्वी से दूसरे ग्रहों पर मानव चरण पहुँचते रहे हैं सबसे पहला प्रयास मानव ने चाँद पर जाने का क्या जिसमे सफलता भी मिली उसके बाद मंगल ग्रह को भी अपनी पहुँच में लेने का प्रयास किया और इसमे भी काफी हद तक सफलता मिली।


अब ऐसे मे बहुत से लोगो के मन मे ये सवाल आता है की हमारी धरती से मंगल ग्रह की दूरी कितनी है तो अगर आपके मन मे भी ये सवाल है और आपको इसका जवाब नहीं मिला है तो आजका हमारा ये आर्टिकल आपके लिए ही है आज हम आपको बताएगे की पृथ्वी से मंगल ग्रह की दूरी कितनी है।


Also Read 

थ्वी से सूर्य की दूरी कितनी है

पृथ्वी से चंद्रमा की दूरी कितनी है


मे आपको बता दूँ की कुछ समय पहले तक तो अमेरीकन स्पेस कंपनी नासा में बैठे वैज्ञानिक इस बात की खोजबीन कर रहे थे कि मंगल ग्रह वास्तव में पृथ्वी से कितना दूर है या फिर मंगल ग्रह पर जाने मे कितना समय लगता है या फिर सूर्य से मंगल ग्रह की दूरी कितनी है या फिर मंगल ग्रह के कितने चंद्रमा है मंगल पर कितने समय में पहुंचा जा सकता है इन सब सवालो के जवाब आज हम आपको देने वाले है।


अगर आपको इन सभी सवालो के जवाब विडियो के माध्यम से जानना है तो हमने अपने चैनल पर एक विडियो अपलोड किया है आप उसको देख कर आसानी से समझ सकते हो विडियो का लिंक नीचे दिये गया है क्लिक करके आप विडियो को आसानी से देख सकते हो।


मंगल ग्रह कहाँ है?

वैसे आपको इस बात का तो पता ही होगा की ब्रह्मांड में प्रत्येक ग्रह सूर्य के चारों ओर चक्कर लगता है और इस लिए ही किसी भी ग्रह की स्थिति सूर्य को ही केंद्र में रखकर देखी जाती है और इस लिए सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने वाला चौथा ग्रह मंगल ग्रह है आपको बता दूँ की मंगल ग्रह को हमारी पृथ्वी से भी एक तारे के रूप में आसानी से देखा जा सकता है।


आपको बता दे की ठीक पृथ्वी की तरहा ही मंगल ग्रह भी एक स्थलीय ग्रह है मंगल पर कदम रखने के लिए ठोस ज़मीन है और इतना ही नहीं बल्कि यहाँ वातावरण में भी पृथ्वी की की तरहा ज्वालामुखी, पहाड़ी संरचना, घातियाँ, रेगिस्तान जैसी संरचनाएँ के साथ साथ अब तो पानी भी खोज लिया गया है मंगल ग्रह पर।


मंगल ग्रह की दूरी किसने नापी थी

तो मे आपको बता दूँ की सबसे इस दूरी को नापने का प्रयास 1672 में जियोवन्नी कैसिन्नी (Giovanni Cassinni) द्वारा पेरेल्क्स विधि का प्रयोग करते हुए किया गया था उन्होने मंगल और पृथ्वी की दूरी को नापने के लिए अपने एक साथी जिंका नाम जिन लीचर था उनको गुयाना भेजा और वो खुद पेरिस में रुककर मंगल ग्रह की को नापने का प्रयास किया था।


जिसके बाद इस पूरी प्रक्रिया में जो परिणाम जियोवन्नी कैसिन्नी को प्राप्त हुये उन्होनें उनको पेरिस और गुयाना के बीच की दूरी में जोड़ दिया था आपको यकीन नही होगा लेकिन वर्तमान समय में नापी गई दूरी से  उस समय नापि गई दूरी मे मात्र 7 प्रतिशत का ही अंतर मिला है।


पृथ्वी और मंगल ग्रह के बीच की दूरी कितनी दूरी है?

वैसे मे आपको बता दूँ की मंगल ग्रह और पृथ्वी के बीच की दूरी समय-समय पर बदलती रहती है मंगल पृथ्वी के बीच की औसत दूरी करीब 22.5 करोड़ किओलोंटर है वैसे दोनों ग्रहों के अक्षों का आकार अंडाकार है हमारे कहने का मतलब है की एक जैसा है लेकिन मंगल सूर्य के नजदीक है।


इस लिए पृथ्वी को सूर्य का एक चक्कर लगाने में कम समय लगता है तो मंगल को ज्यादा इस लिए दोनों ग्रहों की दूरी कभी कम तो कभी ज्यादा हो जाती है सूर्य का घूर्णन करते समय जब पृथ्वी और मंगल दोनों सूर्य के एक ओर आ जाते हैं तब मंगल गृह पृथ्वी के पीछे आ जाता है। इस समय पृथ्वी और मंगल की दूरी बहुत कम हो जाती है।


मंगल ग्रह पर जाने मे कितना समय लगता है?

मंगल पर आप कितने समय मे पहुँचोगे ये बात निर्भर करती है की आप जिस विमान से जा रहे हो उसकी रफ्तार कितनी है वैसे मंगल ग्रह पृथ्वी से लगभग 5.5 करोड़ किमी की न्यूनतम दूरी पर है पृथ्वी से मंगल ग्रह पर जाने में 150–300 दिन का समय लगता है यदि प्रकाश की गति से जाओगे तो पृथ्वी से मंगल ग्रह तक जाने में आपको मात्र 3 मिनट का समय लगेगा।


सूर्य और मंगल ग्रह के बीच की दूरी कितनी है

अगर सूर्य से मंगल ग्रह की दूरी की बात करे तो मंगल सूर्य से लगभग 14.2 करोड़ मील की दूरी पर है और बहीं सौर मंडल में हमारी धरती तीसरे नंबर पर मौजूद है ठीक इसके बाद चौथे नंबर पर मंगल ग्रह आता है हमारी पृथ्वी सूरज से लगभग 9.3 करोड़ मील की दूरी पर मौजूद है पृथ्वी की तुलना में मंगल ग्रह लगभग इसका आधा है।


मंगल के कितने चंद है?

वैसे ये बात तो हर कोई जनता है की हमारी पृथ्वी के पास एक ही चांद है लेकिन मार्स यानि मंगल के साथ ऐसेय नहीं है क्यूकी अमेरीकन स्पेस Agency इसरो ने जानकारी देते हुए बताया है कि मंगल ग्रह के पास एक नहीं बल्कि 2 चांद मौजूद हैं पहला फोबोस जिसका व्यास 13.8 मील है और बहीं दूसरा डीमोस जिसका व्यास 7.8 मील है।


मंगल ग्रह पर बिना स्पेससूट के कितनी देर जिंदा रेह सकते है?

आपको बता दे की मंगल ग्रह के वायुमंडल में 95.32℅ कार्बन डाइऑक्साइड, 2.6% नाइट्रोजन, 1.9℅ आर्गन और नाम मात्र का आक्सीजन मौजूद है इतना ही नहीं बल्कि मंगल ग्रह का तापमान पलक झपकते ही -80 (शून्य से 80 डिग्री सेल्सियस) नीचे चला जाता है यह की ठंड इंसान की हड्डी और खून जमा सकती है।


वैसे चलो मान लेते है की कोई इंसान बिना स्पेससूट के और बिना ऑक्सीजन मास्क के अगर मंगल ग्रह पर उतरता है तो यहाँ वायु दबाव कम होने के कारण खून नसों से बाहर आ जायेगा शरीर लकवाग्रस्त हो जायेगा और सांस ना ले पाने के कारण बह इंसान मात्र 2 से 3 मिनट के अंदर ही मर जाएगा।


मंगल ग्रह लाल क्यों हैं?

वैसे आपने कभी न कभी ये जरूर सुना होगा की मंगल ग्रह को लाल ग्रह के नाम से भी जानते है या मार्स के नाम से भी जानते है आपने अगर मंगल ग्रह की काही फोटो देखि होगी तो आपसे देखा होगा की मंगर लाल रंग का दिखता है अब आपके मन मे ये सवाल जरूर आया होगा की मंगल ग्रह लाल क्यों हैं तो मे आपको बता दूँ की मंगल ग्रह का लाल रंग उसकी सतह पर मौजूद iron oxide की वजह से है।


तो दोस्तो उम्मीद है की आपको हमरे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी और कुछ नया जानने को मिला होगा अगर आपको हमारा आर्टिकल पृथ्वी से मंगल ग्रह की दूरी कितनी है - Distance Between Mars And Earth In Hindi पसंद आया तो आप इसको अपने दोस्तो मे शेयर कर दे और यदि आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट करके हमसे पुंछ सकते है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Please Do Note Enter Any Spam Link In The Comment Box