Tuesday, 17 July 2018

Why most airplanes are white हवाई जहाज़ सफेद रंग के क्यों होते हैं

हम सब लोग बचपम से हवाई जहाज देखते आ रहे हैं। और आपने देखा होगा कि जहाज़ सफेद रंग के ही होते हैं। क्या आप जानते हो हवाई जहाज़ सफेद रंग के क्यों होते हैं। सफेद रंग कितना किफायती है, यह बात तो सब जानते हैं। बड़े से बड़े हवाई जहाज भी सफेद रंग के होते हैं। बैसे दोस्तो ऐसा नहीं के उन्हें रंग-बिरंगा नहीं बनाया जा सकता। कंपनियां चाहें तो इन्हे अपनी पसंद से मनचाहे रंग का बनवा भी सकती हैं, लेकिन एसा करने से नुकसान ज्यादा है।Related image

उड्डयन विशेषज्ञों ने बहुत सोच -समझकर ही प्लेन को सफेद रखने की परम्परा कायम कर रखी है। आइए नजर डालते हैं उन कारणों पर कि क्यों हवाई जहाज का रंग सफेद रखा जाता है। सफेद रंग दूसरे गहरे रंगों की तुलना में ऊष्पा कम ग्रहण करता है। लिहाजा हवाई जहाज को ठंडा रखने के लिए भी सफेद रंग का इस्तेमाल किया जाता है। अगर प्लेन में कोई खराबी जैसे क्रेक्स, तेल रिसना आदि हो गई हो तो सफेद रंग में आसानी से दिख जाती हैं। इसलिए इसे सफेद ही रखा जाता है।Image result for white airplane photo

आपने देखा होगा की सभी गहरे रंग धूप में धीरे-धीरे फेड हो जाते हैं। और व्हाइट कलर यथावत रहता है। और यह हम सब जानते है की प्लेन तो तेज धूप और बहुत अधिक ऊंचाई पर उड़ते हैं, इसलिए प्लेन तक सूर्य की किरणें सबसे ज्यादा पहुंचती हैं। और हाँ आपको बता दे की सफेद रंग होने के कारण विमान का रंग फेड नहीं होता है।सफेद रंग सबसे हल्का होता है। दोस्तो अगर हवाई जहाज में सफेद रंग के बदले किसी और रंग का उपयोग किया जाए तो कलर से प्लेन का वजन काफी बढ़ जाता है। Related image

और इस वजह से प्लेन मे ईंधन की खपत काफी बढ़ जाएगी, लेकिन सफेद रंग के हल्का होने से ईंधन की खपत में बहुत अधिक कमी आती है। और इससे कंपनियों के खर्च में भी कमी आती है और इस लिए सारे प्लेन सफ़ेद रंग के ही बनाए जाते है।Related image

अब हम आपको बता दे की एक हवाई जहाज को पेंट करने में लगभग 3 लाख रुपये से लेकर 1 करोड़ तक खर्चा आता है। प्लेन को बार-बार पेंट करवाना कंपनियों के लिए ज्यादा खर्चीला साबित होता है। इसी लिए सारी कंपनीसिर्फ ऐसा कलर चाहती हैं जो ज्यादा से ज्यादा टिकाऊ साबित हो। सफेद रंग का इस दृष्टि से कोई मुकाबला नहीं है।

0 comments: